परिचय

|

तस्वीर द्वारा-

|

लेखक-घनश्याम

image

image

1974 के छात्रा-आंदोलन में सक्रिय भागीदारी एवं छात्रा युवा संघर्ष वाहिनी के सक्रिय सदस्य। ऽ 30 सितम्बर, 1974 में ‘मीसा’ में बंदी एवं पुनः आपातकाल के दौरान ‘मीसा’ एवं ‘डीआईआर’ में बंदी। ऽ स्वैच्छिक संगठनों से जुड़ कर अब तक समाज में कार्यरत/ जल, जंगल व जमीन के संरक्षण-संव(्र्रन में लगातार सक्रिय। ऽ ‘दृष्टि और दशा’, ‘जब नदी बंध्ी’, ‘झारखण्ड विकास पर विमर्श’, ‘देशज गणतंत्रा’ एवं ‘जलवायु संकट का देशज समाधन’ नामक पुस्तक की रचना। ऽ तिलकामांझी, कोल्हान के शहीद, सि(ू-कान्हू, बिरसा मुण्डा आदि झारखंड के महापुरुषों पर किशोरों के लिए पुस्तक का लेखन व प्रकाशन। ऽ ‘एक तरीका’ मासिक में सहायोगी संपादन एवं ‘जनसत्ता’, देवघर के लिए 7 सालों तक जिला स्तर की रिपोर्टिंग। देवघर जिला के मध्ुपुर ब्लॉक अंतर्गत महुआडाबर ग्राम में निवास स्थान। महुआडाबर, मध्ुपुर एवं गिरिडीह में शिक्षा-दीक्षा।